Computer Output

क्या आप जानते हैं Computer का आविष्कार Charles Babbage द्वारा किया गया है जिसे कंप्यूटर का जनक भी कहा जाता है.

आपका बहुत-बहुत स्वागत है हमारे इस Blog पर और आज हम सीखने वाले हैं Computer के कुछ भौतिक स्वरूप उपकरणों के बारे में जिनके बारे में आपको जानना जरूरी है अगर आप कंप्यूटर सीखना चाहते हैं.

आज के इस Article में आपको बहुत ही आसान भाषा में Computer के उपकरणों के बारे में जानने को मिलेगा जैसे कि मॉनिटर कीबोर्ड माउस या सिस्टम यूनिट और प्रिंटर यह क्या होते हैं और कैसे काम करते हैं आपको सभी जानकारी आज पढ़ने को मिलेगी

Computer के विभिन्न उपकरण

Computer की आंतरिक संरचना के बारे में विस्तार से जानने और समय इसके भौतिक रूप से परिचित होते हैं। वर्तमान समय में आम बोलचाल की भाषा कम्प्यूटर को PC या Personal Computer कहा जाता है। जब हमारी नजर पहली बार पड़ती है तो इसके निम्न भाग हमें दिखाई देते हैं।

(1) Monitor-

Computer का वह अनिवार्य भाग जिसकी Screen या पटल पर यह देता है कि काम क्या हो रहा है? यह भाग Computer की Output यति अन्तर्गत आता है।

monitor kya he

यह कंप्यूटर का मुख्य भाग होता है जिसकी मदद से आपको यह जानने को मिलता है कि कंप्यूटर Software पर क्या Run हो रहा है और यह कैसे काम करता है बिना Monitor के Computer को चलाना लगभग नामुमकिन है

(2) Keyboard-

कम्प्यूटर का वह अनिवार्य भाग जिसके द्वारा हम Computer को काम करने के आदेश और डाटा इनपुट करते हैं। यह भाग Computer Unit के अन्तर्गत आता है।

keyboard kya he

आप इस Keyboard की मदद से Data Entry, Application Type, कर सकते हैं Email लिख सकते हैं और भी बहुत सारे Typing वर्क आप कर सकते हैं.

(3) System Unit-

कम्प्यूटर का वह अनिवार्य भाग जिसमें कार्य की प्रोसेसिंग, उसके परिणामों यानी पूरे PC को चलाने के अंदरूनी Hardware संसाधन लगे होते हैं। Memory (प्राइमरी और सेकेण्डरी) और कम्युनिकेशन Port जैसे समस्त कम्पोनेन्ट इसी के अन्तर्गत आते हैं। Keyboard, Monitor, Printer, – इत्यादि को इसी से जोड़ा जाता

System Unit Hindi

(4) Mouse-

वर्तमान समय में Computer का वह अनिवार्य भाग जिसके द्वारा Screen पर मनचाही जगह प्वाइंटर को ले जाकर कमांड क्रियान्वित करते हैं। इन कमांडों को iCon के कहा जाना है। विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम को इसके बिना संचालित नहीं किया जा सकता है।

mouse kya he

(5) Printer-

यह एक वैकल्पिक भाग होता है। इससे अपने काम और दस्तावेज की छपी कॉपी निकालते हैं। इसे सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट में बनी कम्युनिकेशन पोर्ट से जोड़ा जाता है। इसे वर्तमान समय में USB और LPT1 से जोडते हैं।

Printer kya he

नये आवश्यक उपकरण

नये आवश्यक उपकरण– इन दिनों Computer के साथ और कई उपयोगी उपकरण लगे होते हैं जिनसे इसकी कार्य-क्षमता में बढोत्तरी तो होती ही है और इसके साथ ही यह बहुआयामी भी हो जाता है। इनमें से कुछ निम्नलिखित हैं

(1) CD, DVD Driver –

फ्लॉपी की जगह अब इसी ड्राइव का अधिक उपयोग हो रहा है। इसके द्वारा जहाँ बड़े-बड़े सॉफ्टवेयरों को इन्सटॉल करते हैं वहीं इसमें Data Backup भी लिया जाता है। आज Computer को Boot भी इसी से किया जाता है।

(2) Speaker-

वर्तमान समय में Multimedia तकनीक की वजह से इसका प्रयोग लगभग अनिवार्य हो गया है। इससे कम्प्यूटर में स्टोर आवाज को सुना जा सकता है। इन्हें सीपीय में लगी लाउंड पोट से जोड़ा जाता है।

(3) Mic-

वर्तमान समय में Multimedia तकनीक की वजह से इसका प्रयोग भी लगभग अनिवार्य हो गया है। इससे कम्प्यूटर आवाज को इनपूट किया जा सकता है। इंटरनेट से फोन करने में इसका प्रयोग सबसे ज्यादा किया जाता है। यदि हम Headphone का प्रयोग करते हैं तो यह हैडफोन में लगा होता है। स्पीच रिकग्नीशनं के लिये इसका कम्प्यूटर से जुड़ना अनिवार्य है।

(4) Modem-

इस उपकरण का प्रयोग फोन लाइन से संदेश लेन-देन और इंटरनेट से जुड़ने के लिये किया जाता है। यदि हमारे पास इंटरनेट का डॉयल-अप कनेक्शन है तो इसका कम्प्यूटर में लगा होना जरूरी है। इसे सीपीयू के अन्दर भी लगाया जा सकता है।

(5) LAN card-

वर्तमान समय में पर्सनल Computer की जगह Network कम्प्यूटरों का चलन बढ़ रहा है। इसी वजह से इस कार्ड का प्रयोग भी बढ़ गया है। यह कार्ड आज के प्रत्येक कम्प्यूटर में किसी न किसी रूप में लगा होता है। इसके द्वारा एक कम्प्यूटर को एक तार के जरिये दूसरे कम्प्यूटर से जोड़ सकते हैं। इसके अलावा इससे Broadband Internet को प्रयोग किया जाता है।

(6) Scanner, Digital Camera-

इन उपकरणों का प्रयोग Computer में Image को Input करने के लिये किया जाता है। Scanner जहाँ कागज पर छपी इमेज को स्कैन करके कम्प्यूटर में इनटपुट करता है वहीं डिजिटल कैमरा इमेज खींचकर उसे एक फाइल के रूप में कम्प्यूटर में इनपुट कर सकता है।

(7) UPS-

इस उपकरण का प्रयोग बिजली के उतार-चढ़ावों के नुकसान से पीसी को बचाने और लगातार बिजली की आपूर्ति के लिये किया जाता है।

आपने अक्सर देखा होगा कि, जब कभी भी हम Computer Desktop पर अपना कार्य करते हैं और अचानक से अगर बिजली चली जाती है तो हमारा कंप्यूटर का सारा Work का नुकसान हो जाता है, लेकिन इसके समाधान के लिए UPS बनाया गया है जो कि आपको 15 से 20 मिनट की बिजली दे देता है जब कभी भी बिजली चली जाती है.


हम आशा करते हैं कि आपको यह Article पढ़ के मजा आया होगा इस आर्टिकल में हमने Computer के सभी उपकरणों के बारे में आपको जानकारी दी है, अगर आपको लगता है कि कोई जानकारी हमसे छूट गई हो तो कृपया कर उसे Comment में हमसे साझा करें.

अगर आपको यह Article Helpful रखता है तो आप इस आर्टिकल को अपने मित्रों के साथ और घर के सदस्यों के साथ Share कर सकते हैं और उन्हें भी कंप्यूटर की जानकारी दे सकते हैं.

आप हमारे Blog से Computer के बारे में बहुत कुछ सीख सकते हैं एस Blog पर कंप्यूटर की सभी जानकारी के बारे में बताया जाता है वह भी बहुत आसान भाषा में धन्यवाद आपका इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए.



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here